राजस्थान के प्रमुख जनपद – जांगल जनपद, मत्स्य जनपद , शूरसेन जनपद, शिवि जनपद

👉 जांगल जनपद
वर्तमान बीकानेर और जोधपुर के जिले महाभारत काल में जांगल जनपद कहलाते हैं।
अन्य नाम – कुरू जांगला जनपद व माद्रेय जांगला जनपद।
इस जनपद की राजधानी – अहिच्छत्रपुर ( वर्तमान नागौर)।
बीकानेर के राजा स्वयं को जांगलधर बादशाह कहते थे। बीकानेर राज्य के राजचिह्न में जय जांगलधर बादशाह लिखा मिलता हैं।
👉 मत्स्य जनपद
वर्तमान जयपुर के आसपास का क्षेत्र व अलवर – भरतपुर का कुछ भाग इस जनपद के अन्तर्गत आता था।
इस जनपद की राजधानी – विराटनगर ( वर्तमान नाम बैराठ , जयपुर) ।
👉 शूरसेन जनपद
आधुनिक ब्रज क्षेत्र में।
राजधानी – मथुरा
इस जनपद को यूनानी लेखक शूरसेनोई तथा राजधानी को मेथोरा कहते हैं।
महाभारत के अनुसार यहां यादव वंश का राज था।
भरतपुर, धौलपुर तथा करौली जिलों के ज्यादातर भाग इसी जनपद में आते थे।
श्री कृष्ण का (भगवान) का संबंध इसी जनपद से था।
👉 शिवि जनपद
राजधानी – शिवपुर 
शिवपुर की जानकारी पाकिस्तान के शोरकोट नामक स्थान से की जाती हैं। दक्षिण पंजाब की शिवि जाति ने राजस्थान के मेवाड़ पर भी शासन किया ।
चित्तौड़ के पास स्थित नगरी शिवि जनपद की राजधानी रहा था।
इन जनपदों में गणतंत्रात्मक शासन प्रणाली थी परन्तु राजसत्ता कुलीन परिवारों के साथ में थी।
इन परिवारों के प्रतिनिधि ही  संथागार सभा के प्रमुखों के रूप में शासन व्यवस्था करते थे।
किसी प्रकार के विवाद की स्थिति में मतदान कराने की व्यवस्था थी।
Share :

नमस्कार दोस्तो मे गूदर राम current classes का co-founder & author हू में सरकारी शिक्षक हू current classes मैं आपको सभी प्रकार कि शिक्षा सम्बधित जानकारी दी जायेगी। आप भी मेरा साथ देने के लिये currentclasses.com ब्लोग को पदकर योगदान दे सकते हे। ओर current classes के सभी social page को फोलो करे।

Leave a Comment